भारत के अतीत की उप्

Just another Jagranjunction Blogs weblog

368 Posts

476 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 18237 postid : 1302923

भारत की असली परन्तु चिंताजनक तस्बीर

Posted On 27 Dec, 2016 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

जय श्री राम कृपया जरूर पढे ।*धारा 370*
*जरूर जानिये जम्मू-कश्मीर के नागरिकों के पास दोहरी नागरिकता होती है ।

जम्मू-कश्मीर का राष्ट्रध्वज अलग होता है
जम्मू – कश्मीर की विधानसभा का कार्यकाल 6 वर्षों का होता हैजबकी भारत के अन्य राज्यों की विधानसभाओं का कार्यकाल 5वर्ष का होता है ।जम्मू-कश्मीर के अन्दर भारत के राष्ट्रध्वज या राष्ट्रीय प्रतीकों का अपमान अपराध नहीं होता है ।

भारत के उच्चतम न्यायलय के आदेश जम्मू – कश्मीर के अन्दर मान्य नहीं होते हैं
भारत की संसद को जम्मू – कश्मीर के सम्बन्ध में अत्यंत सीमित
क्षेत्र में कानून बना सकती है ।
———————-
जम्मू कश्मीर की कोई महिला यदि भारत के किसी अन्य राज्य के
व्यक्ति से विवाह कर ले तो उस महिला की नागरिकता समाप्त हो जायेगी ।
इसके विपरीत यदि वह पकिस्तान के
किसी व्यक्ति से विवाह कर ले तो उसे भी जम्मू – कश्मीर की नागरिकता मिल जायेगी ।और धारा 370 की वजह से कश्मीर में RTI लागु नहीं है । RTE लागू नहीं है ।CAG लागू नहीं होता ।भारत का कोई भी कानून लागु नहीं होता
कश्मीर में महिलाओ पर शरियत कानून लागु है ।
कश्मीर में पंचायत के अधिकार नहीं ।कश्मीर में चपरासी को 2500 ही मिलते है.कश्मीर में अल्पसंख्यको [ हिन्दू- सिख ] को 16 % आरक्षण नहीं मिलता ।          धारा 370 की वजह से कश्मीर में बाहर के लोग जमीन नहीं खरीद सकते है ।धारा 370 की वजह से ही पाकिस्तानियो को भी भारतीय नागरीकता मिल जाता है इसके लिए पाकिस्तानियो को केवल किसी कश्मीरी लड़की से शादी करनी होती है । अच्छी शुरुवात है कम से कम 370 हटाने की दिशा में एक कदम आगे की ओर मोदी जी को धन्यवाद जो उन्होनें धारा 370 का मुद्दा उठाया ।

अब यदि कोई सेकुलर इन तथ्यों के विषय में कुछ कहना चाहे
तो स्वागत हैं…!!!
370 धारा हटाना ही है…. इसलिए मेसेज को ज्यादा से ज्यादा फैलाओ
कश्मीर में आप
तिरंगा नहीं फहरा सकते, कन्याकुमारी में रिक्शे के पीछे आप जय श्री राम नहीं लिख सकते, हैदराबाद में मन्दिर की आप घंटी नहीं बजा सकते,कलकत्ता में आप अपने घर के दरवाजे  पर बजरंगबली की मूर्ति नहीं लगा सकते फिर कैसे कहूं की कश्मीर सेकन्याकुमारी तक भारत एक है ??65 सालो के इतिहास में :-पहली बार अगर किसी ने खुल के कांग्रेस के कान पकडे हैं तो वो नमो हैं !पहली बार अगर युवा अपनी टी-शर्ट, टैटू, गेम्स, वॉलपेपर व दिलो दिमाग में किसी नेता को जगह दे रहे हैं तो वो नमो हैं !पहली बार अगर गांधी परिवार के मन में हाथ से सत्ता जाने का डर जागा हैं तो वो नमो हैं !

पहली बार किसी नेता के भाषण को सुनने के लिए अगर जनता ने पैसे खर्च किया हैं तो वो नमो हैं !

पहली बार भारत की सत्ता को लेके अमेरिका चीन व पाकिस्तान तक में हलचल उठी हैं तो वो नमो हैं !

हर घर मोदी-घर घर में नरेंद्र मोदी का अर्थ है : विकास, विजन और विश्वास.

विश्वास करो तुम मोदी पर वह नवयुग का निर्माता है ।

ऐसा नेता इस धरती पर सौ वर्षो में एक बार आता है ।।

आपको सिर्फ 3 लोगो को मेसेज जरुर करना है , जनहित का ये मेसेज सिर्फ आप सब के पढने के लिए नहीं है…. आगे क्या करना है इस मेसेज का, आप खुद समझदार है

भारत माता की जय

रमेश अग्रवाल -कानपुर

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

4 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Shobha के द्वारा
December 27, 2016

श्री आदरणीय रमेश जी बहुत मजबूरी में फैसला लेना पड़ा था मामला सुरक्षा परिषद में नेहरू जी ले गये थे |बेहद उम्दा लेख में इसे हमारे यहाँ चिन्तन की बैठक लगती है प्रिंट निकाल कर वहाँ के हर सदस्य को दूंगी AM4

rameshagarwal के द्वारा
December 27, 2016

जय श्री राम आदरणीया शोभा जी नेहरूजी की एक अहम् से लिया फैसला देश के लिए लितना भारी पड़ गया इसके बाद इंदिराजी ने १९७१ में बिना कश्मीर समस्या हल किये ९३००० सैनिक छोड़ दिए ये गलतियां बहुत भरी पर रही है पढने और प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद.

harirawat के द्वारा
February 2, 2017

रमेश जी आपका कथन सही है, और खास तौर पर मैं आपके विचारों से पूरी तरह सहमत हूँ ! आजकल आप की लेखनी नजर नहीं आ रही है आप स्वस्थ तो हैं ? हरेन्द्र

rameshagarwal के द्वारा
April 15, 2017

जय श्री राम आदरणीय हरेन्द्र जी 28 दिसम्बर से हच हृदय की समस्या थी cardilogy कानपुर में भरती थे पके मेकर लगाया गया 5 दिन रहे लेकिन आज ही 3 १/2 महीने बाद हिम्मत कर सका आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद् देने के लिए.


topic of the week



latest from jagran